Display bannar

सुर्खियां

नाग पंचमी विशेष : काल सर्प दोष से मुक्ति हेतु आज के दिन करें ये सरल उपाय

ज्योतिष शास्त्रियों के अनुसार कालसर्प योग के प्रभाव से छुटकारा पाने के लिए बहुत से उपाय और पूजन बताएं गए हैं अगर आप विधि-विधान से कालसर्प योग का पूजन करना चाहते हैं तो सिर्फ दो ही ऐसे स्थल हैं, जहां कालसर्प योग की शांति के लिए पूजा करने का विधान है और वो स्थल हैं नासिक और उज्जैन। यह दोनों स्थल सबसे उत्तम माने गए हैं।
          प्रत्येक व्यक्ति के लिए इन स्थानों की यात्रा करना संभव नहीं है। अन्य विकल्प के रूप में जिस व्यक्ति की जन्म कुंडली में कालसर्प योग हो वो जातक सुबह स्नान आदि करने के बाद शुद्ध वस्त्र धारण करे किसी पावन नदी के तट पर जा कर सर्वप्रथम अपने इष्टदेव तत्पश्चात भगवान शिव तथा अन्य देवी-देवताओं का ध्यान करके अपनी सामर्थ्य के अनुसार चांदी के नाग-नागिन बनवाकर पवित्र नदी में बहा दें। इस उपाय को करने से जातक के जीवन में आ रही परेशानियों का अंत हो जाता है और धन-संपदा से संबंधित सभी समस्याओं का अंत होता है।
           कुछ विद्वानों का मानना है कि काल सर्प दोष से ग्रस्त जातक जितने भी प्रयास कर ले उसे जीवन में सुख-समृद्धि मिलना असंभव है वहीं दूसरी ओर अन्य विद्वानों का मानना है कि नागपंचमी पर नाग देवता का पूजन काल सर्प योग के दुष्प्रभावों को समाप्त करता है।

No comments