Display bannar

सुर्खियां

HIV के इलाज मे मददगार हो सकता है एशियाई पौधे का अर्क... जाने कैसे


वाशिंगटन : आर्थराइटिस का परंपरागत रूप से इलाज करने के लिए एशिया में पाये जाने वाले एक औषधीय पौधे में एक प्रभावशाली एचआईवी-रोधी यौगिक होता है जो वैज्ञानिकों के अनुसार एचआईवी एड्स की रोकथाम और उपचार के लिए इस्तेमाल दवा एजिडोथिमाइडीन (एटीजेड) से अधिक शक्तिशाली होता है।

औषधीय पादप जस्टीसिया से निकलने वाले यौगिक पेटेंटीफ्लोरीन ए को 4500 से ज्यादा पौधों के अर्क के एचआईवी वायरस के विरद्ध उनके प्रभाव के विश्लेषण में पहचाना गया।

अमेरिका के शिकागो में यूनिवसर्टिी ऑफ इलिनोइस में प्रोफेसर डोएल सोएजार्टो ने 10 साल से अधिक समय पहले वियतनाम के हनोई में सीयूसी फुआंग नेशनल पार्क में पौधे की पत्तियों, तनों और जड़ों से अर्क निकाला था। अनुसंधानकर्ताओं ने एचआईवी, टीबी, मलेरिया और कैंसर के विरद्ध नयी दवाओं की खोज करने के अपने प्रयासों के तहत हजारों अन्य पौधों के अर्क का विश्लेषण किया था।

No comments