Display bannar

सुर्खियां

इन 20 छात्राओं को MSME ने दिया हुनरबाज़ का खिताब


आगरा :  घरों में दम तोड़ती प्रतिभा को एमएसएमई ने हाथ का हुनर दिया तो उनके चेहरे खिल उठे। गारमेंट्स मैन्युफैक्चरिंग पर एक माह के प्रशिक्षण कार्यक्रम में 20 छात्राओं को परिधान बनाने की ट्रेनिंग दी गई। आज इस प्रशिक्षण शिविर का समापन हुआ। इस अवसर पर छात्राओं को प्रमाण पत्र वितरित किए गए। मुख्य अतिथि इलाहबाद बैंक के उपमहाप्रबंधक आरपी तोषनीबाल ने सभी छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज हुनर की कमी है, जब हुनर मिल जाए, तो भविष्य की राह आसान हो जाती है। उद्योग की इस राह को और भी आसान बनाने के लिए इलाहबाद बैंक उनकी हर संभव मदद करेगा। इस दौरान उन्होंने प्रोजेक्ट के नाम पर लोन दिलाने का झांसा देकर ठगी करने वालों से सावधान रहने की नसीहत भी दी। विशिष्ट अतिथि जेएल जैन ने सभी को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दीं।

पूर्व सहायक आयुक्त वाणिज्यकर दिनेश शर्मा ने कहा कि व्यापार करने के लिए बैंक बड़ी मदद करते हैं। इसके लिए हमारी भी कुछ जिम्मेदारियां हैं। बैंकों से क्षमता के अनुसार ही लोन लें, जिससे उसे समय पर चुका सकें। ऐसा करने से भविष्य में जब भी बडा व्यापार करेंगे, तो बैंक आर्थिक रूप से बड़ी सहायता करने में सहायक होते हैं।


इन्हें मिले सर्टिफिकेट
कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि द्वारा सभी प्रशिक्षुओं को सर्टिफिकेट प्रदान किए गए। सर्टिफिकेट प्राप्त करने वालों में नीलम, कामिनी, समा, आकांक्षा, हर्षिता, प्रिया, आयुषी, प्रिया चौहान, आकांक्षा शर्मा, आयुषी शर्मा, प्रीती, कंचन, सोनी, सीमा, अल्पा, कोमल, साहिसता, शिवांगी और हिमाद्री शामिल रहीं। सर्टिफिकेट प्राप्त कर सभी के चेहरे खुशी से खिल उठे।

इनका हुआ विशेष सम्मान
एक माह के प्रशिक्षण को पूर्ण करने के साथ ही चार छात्राओं ने कोमल खन्ना, सीमा शर्मा, आकांक्षा शर्मा और आयुषी शर्मा ने अपना बुटीक शुरू कर दिया है, जिसके लिए इन छात्राओं का विशेष रूप से सम्मान किया गया।  

ये रहे मौजूद
कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि इलाहबाद बैंक के उपमहाप्रबंधक आरपी तोषनीबाल, विशिष्ट अतिथि सहायक आयुक्त उद्योग जेएल जैन, सहायक आयुक्त सौम्या सिंह, पूर्व सहायक आयुक्त वाणिज्यकर दिनेश शर्मा, पूर्व प्रबंधक भारतीय स्टेट बैंक अमिताभ सिंघल, अन्वेषक सुशील यादव, सहायक निदेशक एमएसएमई राजेश कुमार, सुशील यादव, बीएम झा, सहायक निदेशक सुधीर गौतम, राजेश कुमार

No comments