Display bannar

सुर्खियां

प्रशासन से की देवी-देवताओ के फोटो वाले पटाखों पर प्रतिबंध लगाने की मांग... जाने क्यो

आगरा  : वर्तमान में बाजार में दीपावली की पार्श्वभूमि पर श्री लक्ष्मीदेवी, श्री विष्णू तथा नेताजी सुभाषचंद्र बोस, लोकमान्य तिलक समान राष्ट्रपुरुषों के छाया चित्र वाले पटाखों की नि:स्संकोच रूप से विक्रय होने की बात सामने आयी है| इस पार्श्वभूमि पर हिन्दू जनजागृति समिति की ओर से देवी-देवता तथा राष्ट्रपुरुषों के छाया चित्र वाले पटाखों पर प्रतिबंध लगाने की मांग का ज्ञापन सुबह 10 बजे आगरा अपर जिलाधिकारी वित्तीय राकेश मालपानी व् पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक टी.पी.सिंह को प्रस्तुत किया गया है। पटाखे जलाने पर छायाचित्र की धज्जियां उड कर देवी-देवताओं की भयंकर विडंबना तथा राष्ट्रपुरुषों का अपमान होता है इसलिए इस ज्ञापन मे ऐसा कहा गया है कि ऐसे पटाखों पर प्रतिबंध लगाया जाए एवं पटाखे बिक्रेताओं पर प्रतिबंध लगा कर नागरिकों की धार्मिक भावना एवं राष्ट्रीय अस्मिता का सम्मान करें|

देवी-देवताओ के पटाखे चलना उनका अपमान करना 
देवी-देवताओं या राष्ट्रपुरुषों के छायाचित्र वाले पटाखे खरीदना मतलब उनका अनादर करना कहा जा सकता है। ऐसे छायाचित्र वाले पटाखे बजाने के बाद उनके कागजों के टुकड़े बिखर जाते हैं व उन पर चलने पर उनका अनादर होता है। देवताओं का भक्ति भाव से पूजन किया जाता है और राष्ट्रपुरुषों ने तो देश के लिए अपने घर पर तुलसी पत्र रखते हुए सभी सुखों का त्याग किया है। यह बातें ध्यान में रखते हुए जोश में आकर उनका अनादर न हो, इसका विशेष ध्यान रखना होगा। ऐसे पटाखों की बिक्री होते रहने के कारण हर साल ये बाजार में आते हैं। सम्मान लायक पुरुषों या देवताओं के पटाखों का निर्माण करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी, यह बात सरकार ने पटाखों का निर्माण करने वालों से कहनी चाहिए और उन पर नजर रखकर वह किस प्रकार के पटाखों का निर्माण करते हैं, उस पर ध्यान रखना चाहिए। अपना छायाचित्र पटाखे को लगाकर वह फटने के बाद उसके टुकड़ों पर कोई चलता है, तो किसी को भी पसंद नहीं आएगा। सम्माननीय चीजों के बारे में सोच-समझकर बर्ताव करना ही उचित है। इस दिवाली को यह ध्यान में रखते हुए उनका अनादर टालकर उनका दिल से आदर करें।


अधिकारियों ने माना ये पटाखो पर देवी-देवताओ के फोटो लगाना गलत है  
अपर जिलाधिकारी वित्तीय राकेश मालपानी ने पटाखों पर देवी-देवताओं के छायाचित्र छापना अनुचित है ऐसा बताते हुए इस प्रकरण में सहयोग करने का आश्‍वासन दिया व् दूसरी ओर पटाखों पर देवी-देवताओं के छायाचित्र लगा कर ना बेचे जाने के सन्दर्भ में पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक टी.पी.सिंह ने आगरा महानगर के सभी थानों को कार्यवाही हेतु पत्र भेजने की बात कही | शुभम सोनी ने कहा कि ये कहने का कोई फ़ायदा नहीं कि लोग और पटाखा निर्माता अज्ञानतावश ऐसा कर रहे हैं| यही वजह है कि हमने ज़िला प्रशासन से निर्माताओं के इस चलन को बंद कराने का अनुरोध किया है| इस अवसर पर प्रमुख रूप से हिन्दू जनजागृति समिति के ठाकुर सिंह, मोनिका सिंह, हिन्दू सेना के नवीन भारद्वाज, पवन धाकड़ आदि उपस्थित रहे । 

No comments