Display bannar

सुर्खियां

बड़ा सवाल : आगरा के सांसद अपनी ही सरकार मे क्यो दे रहे स्कूल के बाहर धरना ?

खबर : अशोक वर्मा, आगरा


आगरा : जगदीशपुरा के दो ऐसे स्कूलों जहाँ प्राइमरी स्कूल बिल्डिंग में दबंग लोगों के व्यवसाय से जुड़े सामान को स्कूल परिषद में रखने से बच्चे पेड़ के नीचे बैठकर पढ़ते हैं। धूप आने पर छांव की तलाश में चटाई लेकर इधर-उधर दौड़ते रहते हैं। झुंगी-झोपंडी में रहने वालों बच्चों के प्रति शिक्षा की अलख जगा रहे नरेश पारस ने इस सम्बंध में शासन स्तर से कार्यवाही के आदेश जारी दिलाये लेकिन शासन को बीएसए ने गोलमोल रिपोर्ट भेज दी।

आज इस मामले में एससी/एसटी आयोग के अध्यक्ष डॉ. रामशंकर कठेरिया ने स्कूल में अपने समर्थकों के साथ धरना दिया। जैसे ही धरने की खबर प्रशासन को हुई तो अधिकारियों में हड़कंप मच गया। रामशंकर कठेरिया ने मौके पर पहुंचे अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई। मौके पर बीएसए, एसडीएम, एडीएम सिटी, श्रम विभाग सहित आला अधिकारी मौजूद रहे। सांसद कठेरिया ने 15 दिन की चेतावनी दी है और अगर 15 दिन में काम नहीं हुआ तो वह पुनः इस जगह पर धरना देंगे| 

अब पाठको का ये सवाल उठना लाज़मी है कि दलित नेता दलित क्षेत्र मे धरना किसके खिलाफ दे रहे है वार्ड पार्षद से लेकर प्रधानमंत्री उनकी भाजपा सरकार के है तो क्या उनकी पकड़ अपने ही संसदीय क्षेत्र के अधिकारियों पर नहीं जोकि 15 दिन बाद भी अगर स्कूल की दुर्दशा न सुधारने पर धरना देने की बात कह रहे है? 

No comments