Display bannar

सुर्खियां

आगरा के धर्मगुरु ने पद्मावती फिल्म का किया बहिष्कार







आगरा : देश में पद्मावती फिल्म के विरोध की सरगर्मी लगातार बढ़ती जा रही है। इसी कड़ी में आगरा में पद्मावती फिल्म के लिए सामाजिक संगठनों व हिंदूवादी संगठनों के विरोध के स्वर लगातार तेज हो रहे हैं। आज ताजनगरी के धर्मगुरुओ द्वारा फिल्म में आपत्तिजनक दृश्य दिखाए जाने के संबंध में संजय प्लेस स्थित एक रेस्टोरेन्ट में एक मीडियावार्ता कर अपनी बात रखी। जिसमें सभी धर्मगुरुओं ने अपने अलग-अलग मत प्रस्तुत किए। 

धर्मगुरुओं प्रमुख रुप से मुरशद अली, भंते ज्ञान रत्न, योगेंद्र पुरी, कुलविंदर सिंह व शांति दूत बंटी ग्रोवर शामिल रहे। सभी धर्म गुरुओं ने फिल्म देखने जा रहे दर्शकों से फिल्म का बहिष्कार करने की अपील की। उनका कहना था कि यह एक सोची समझी साजिश जो आर्थिक लाभ कमाने के लिए भारतीय संस्कृति, सभ्यता और धर्म की आड़ ले रहे है। जिसमें भारतीय इतिहास को तोड़ मरोड़ कर प्रस्तुत कर राजपूतों की भावनाओ को ठेस पहुंची है। सुलहकुल की नगरी आगरा में शांति व्यवस्था बनाए रखने की जनता से अपील धर्मगुरुओं ने की।

क्या कहते हैं मनकामेश्वर  महंत योगेंद्र पुरी
फ़िल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली ने रानी पद्मावती के जीवन पर इतिहास से छेड़छाड़ कर देशद्रोह किया है। मैं फिल्म का बहिष्कार करता हूं और लोगों से भी फिल्म ना देखने की गुजारिश करता हूं और मंदिर में भी लोगों से यही अपील करूंगा।


क्या कहते हैं भन्ते ज्ञान रत्न
फिल्म का विरोध करने का काम धर्मगुरुओं का नहीं है हम सिर्फ लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील कर रहे हैं अहिंसा हमारा गहना है और हिंसा कर किसी की प्रॉपर्टी को क्षतिग्रस्त करना गलत है।  बढ़ते हुए विरोध की वजह कहीं ना कहीं सरकार की उदासीनता है।

No comments