Display bannar

सुर्खियां

टॉयलेट के अंदर से आ रही थी चीखें, दरवाजा खुलते ही सामने आया ये सच



शाहजहांपुर : बुधवार को अहमदाबाद से सुल्तानपुर जा रही नॉन स्टॉप एक्सप्रेस में एक महिला यात्री का पैर ट्रेन के टॉयलेट में फंस गया। इसके बाद शाहजहांपुर स्टेशन पर ट्रेन को एक घंटे रोककर रेस्क्यू किया गया। इस दौरान महिला बुरी तरह से जख्मी हो गई। उसके साथ डॉक्टर की टीम को भी ट्रेन के साथ रवाना किया गया।

ये है पूरा मामला...
मामला अहमदाबाद-सुल्तानपुर नॉन स्टॉप एक्सप्रेस का है। कोच नंबर एस-6 में सफर कर रही राजरानी नाम की महिला, पति और 2 साल के बच्चे के साथ अहमदाबाद से अमेठी जा रही थी। महिला बच्चे को टॉयलेट ले गई थी, वहां अचानक उसका पैर फिसलकर टॉयलेट के कमोड में जा फंसा। पति राजेंद्र ने बताया, ''पत्नी की चीख सुनकर मैं वहां पहुंचा और फिर टीटीई को घटना की जानकारी दी। अगले स्टेशन (शाहजहांपुर) पर ट्रेन को रोका गया। रेलवे कर्मचारियों ने उसका पैर निकालने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। गैस कटर से टॉयलेट पाइप को काटकर पैर निकाला। ''

क्या कहते हैं रेलवे अध‍िकारी?
स्टेशन अधीक्षक ओम शिव अवस्थी ने कहा, ''महिला का पैर ट्रेन के टॉयलेट मे फंसने की सूचना मिली थी। 57 मिनट तक ट्रेन को रोका गया। गैस कटर से टॉयलेट पाइप काटा गया। इसके बाद उसका पैर बाहर निकला। घायल होने के कारण महिला के साथ डॉक्टर की एक टीम भी रवाना की गई।''

No comments