Display bannar

सुर्खियां

रासोत्सव के लिए महिलाओं ने लगाई श्याम सुंदर के नाम की मेहंदी

  • मेहंदी के रंगों संग खूब बही भक्ति की बयार
  • मंजीरे और ठोलक की थाप पर कीर्तन में झूमी महिलाएं
  • आज चिन्ताहरण मंदिर से प्रातः 8 बजे प्रारम्भ होगी आमंत्रण हेतु संकीर्तन यात्रा

आगरा : जैसा कि परंपरा है कि कोई भी शुभ कार्य को करने से पूर्व ढोलक की थाप और हाथो पर मेहंदी लगाना आवश्यक है। मेहंदी के साथ जब भक्ति के रंग मिला तो बुर्जीवाला मंदिर का माहौल भक्तिमय हो गया। हाथों में मेहंदी रचाए मंजीरों व ढोलक की थाप की मधुर स्वरलहरियों के संकीर्तन पर झूमती सखियां। मेहंदी उत्सव के साथ ही जनक महल पार्क पर 23 से 31 दिसंबर तक आयोजित हो रहे रासोत्सव के मंगल कार्यों का शुभारम्भ हुआ। उत्साह और उमंग के साथ आयोजित मेहंदी उत्सव में महिलाएं मैं दुल्हन बनूँगी श्याम सुंदर की..., राधिका गौरी से मैया करा दे मेरो व्या..., कान्हा तेरे रंग में रंग ले मुझको... जैसे भजनों पर महिलाओं खुद को नृत्य करने से न रोक सकी।

मेहंदी उत्सव में जयपुर हाउस एंव प्रताप नगर की महिलाएं के साथ हर भक्त भक्ति के रंग में डूबा था। शनिवार को प्रातः 8 बजे से चिन्ताहरण मंदिर से संकीर्तन यात्रा निकली और जिसका समापन बुर्जीवाला मंदिर पर पहुंच कर किया जाएगा। जिसमे विदेशी भक्तो के साथ नगर को रासोत्सव के कार्यक्रम का निमंत्रण दिया जाएगा । महिलाओ ने मेहंदी उत्सव में 22 दिसंबर को संकीर्तन यात्रा में शामिल होने के लिए हाथों को मेहंदी से रचाया।  इस अवसर पर मुख्य रूप से वीना अग्रवाल, शकुन गोयल, सुनीता बंसल, मीना गोयल, बबिता गोयल, ममता गोयल, सुनीता अग्रवाल, विमलेश गोयल, वंदना अग्रवाल, कृष्णा अग्रवाल, नीतिका अग्रवाल, विमलेश जैन, साधना अग्रवाल, शिल्पी मंगल, पारुल अग्रवाल, जुली अग्रवाल, नीतू अग्रवाल, डिम्पल बंसल, अनिता बंसल, अंजू बंसल, रजनी जैन, शिखा अग्रवाल, सीमा अग्रवाल, सरिता अग्रवाल, इंद्रा अग्रवाल, श्वेता अग्रवाल, विनीता अग्रवाल आदि मौजूद रही।

No comments