Display bannar

सुर्खियां

प्रकाश चंद्रा, दिल्ली 


दिल्ली : दिल्ली में चुनाव आने ही वाले है वही जब घोषणाओं की बारिश लगातार हो रहीं हैं । भले ही सावन की बारिश और बदहाल जल निकासी व्यवस्था ने लोगो को जीना मुश्किल कर कर दिया हो और पक्ष तथा विपक्ष दोनों के दावो की पोल खोल रहें हैं लेकिन नेता तो नेता होते हैं, वो लंबे लंबे वादे करना कैसे छोड़ दें भला ।

क्या किया है दावा
दिल्ली के प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने आने वाले चुनावों मे 56 सीटें लाने का दावा किया हैं । भाजपा में वैसे भी संख्या 56 काफी चीजों की माप रखता हैं। वैसे इतना तो तय है कि जैसे बालाकोट स्ट्राइक का फायदा भाजपा को लोकसभा चुनाव में भरपूर हुआ था उसी तरह अनुच्छेद 370 हटाने का फायदा दिल्ली चुनावों मे साफ देखने को मिलेगा । तभी शायद आप आदमी पार्टी की जमीन खिसकती हुई देख मनोज तिवारी ने ये बयान दिया हैं कि वो आगामी चुनाव में 70 विधानसभा सीटों में से 56 सीटें जीतने वालें हैं । 

आप की नहीं आएँगी ज्यादा सीट : मनोज 
हालांकि उन्होने इसकी वजह बताते हुए कहा कि सरकार अपने किए वादों को निभा नहीं पायी हैं और जनता को नए-नए वादे कर के फिर से गुमराह करने की कोशिश कर रही हैं । जनता को उनके सारे झूठे वादों की बहुत महंगी कीमत चुकानी पड़ी हैं । अब जनता के बीच केजरीवाल के प्रति अविश्वास साफ दिखता हैं । मनोज तिवारी ने अनुमान लगाते हुए कहा कि इस बार आम आदमी पार्टी डबल डिजिट भी क्रॉस नहीं कर पाएगी । 

अब देखना ये हैं कि जमीनी स्तर पर बारिश की बदहाल व्यवस्था से परेशान दिल्ली की जनता MCD के अनदेखे रवैये पर भी कुछ आकलन करती हैं या सारी बदहाली का ठीकड़ा आप आदमी पार्टी पर ही फोड़ती हैं । जनता समझदार हैं, जो निर्णय लेगी सही ही होगा ।

No comments