Display bannar

सुर्खियां

आखिर इस गांव के लोग क्यों कर रहे है 'जल सत्याग्रह', यहां जानिए !

राम बाबू शर्मा, जयपुर 


बिजनौर : उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले के करीब 25 गांवों के लोगों ने गंगा नदी पर एक पुल और तटबांध की मांग को लेकर 'जल सत्याग्रह' शुरू कर दिया है । बताया जा रहा है कि, गांव वालों ने ये सत्याग्रह उस समय शुरू किया है जब कि यूपी की अधिकर नदियां उफान पर है । मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि ग्रामीणों ने अपना आंदोलन मंगलवार को ही शुरू कर दिया था, जो कि आदिनांक तक जारी है  । 

बिजनौर के दैबलगढ़ गांव में लगभग 100 ग्रामीण विरोध प्रदर्शन के तहत प्रतिदिन नदी में घुटने भर गहरे पानी में खड़े होते हैं । इस आंदोलन में महिलाएं भी पुरूषों का समर्थन कर रही हैं और वो भी इस आंदोलन में उनका साथ दे रही है । जानकारी के अनुसार, सोमवार को 'महापंचायत' के दौरान आंदोलन करने का निर्णय लिया गया था । इस मामले में जब प्रदर्शनकारियों से बातचीत की गई तो उन्होंने जानकारी देते हुए कहा है कि ये आंदोलन अनिश्चितकालीन है जब तक की नदी पर कोई पुल नहीं बन जाता तब तक हम लोग इस आंदोलन को जारी रखेंगे। 

भारतीय किसान यूनियन ने भी इस आंदोलन को अपना समर्थन दिया है । राज्य महासचिव राम अवतार सिंह और जिला अध्यक्ष दिगंबर सहित भाकियू के कई नेताओं ने भी विरोध प्रदर्शन में भाग लिया । इसके साथ ही आपको बता दें कि उत्तराखंड के कुछ नेता भी इस आंदोलन में हिस्सा ले रहे हैं ।  आंदोलन को संबोधित करते हुए भाकियू नेता राजेंद्र सिंह ने कहा, "पिछले कुछ वर्षों में गंगा ने हजारों बीघा कृषि भूमि को नष्ट कर दिया है । कटाव के कारण सात गांवों के लोग विस्थापित हो गए हैं। नदी लगातार भूमि का क्षय कर रही है, मगर इतना सबकुछ होने के बाद भी प्रशासन गांव वालों की इस समस्या को लेकर चुप क्यों है ''

No comments