Display bannar

सुर्खियां

इस क्षेत्र में 2023 तक निकलेंगी 10 लाख नौकरियां

अशरफ शेख़, कानपुर


दुनियाभर में ऑटोमेशन, रोबोटिक्स और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के चलते कई क्षेत्रों में रोजगार तेजी से खत्म हो रहे हैं। वहीं कुछ क्षेत्र ऐसे भी हैं जहां रोजगार की भरमार आने वाली है। इन्हीं क्षेत्रों में से एक क्षेत्र है डिजिटल मार्केटिंग का। नवीनतम जानकारी के मुताबिक भारत में डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में वर्ष 2023 तक लगभग 10 लाख नौकरियां आएंगी। आंकलन है कि 2026 तक भारत में ई-कॉमर्स व्यापार करीब 14000 अरब रुपये का हो जाएगा। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि डिजिटल मार्केटिंग में रोजगार के अवसर कितने चमकीले हैं।

डिजिटल मार्केटिंग का खर्च वर्ष-प्रतिवर्ष बढ़ता जा रहा है। पिछले वर्ष इंटरनेट विज्ञापन के लिए 14 अरब अमेरिकी डालर खर्च किए गए। व्यापारी इस बात को भलीभांति समझने लगे हैं कि डिजिटल मार्केटिंग उनके लिए कितनी लाभप्रद है। डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए आपको विपणन, आईटी, जनसंचार, विज्ञापन या बिक्री में डिग्री की जरूरत है। अगर आप इस क्षेत्र में ऊंचाइयों को छूना चाहते हैं तो आपको डिजिटल मार्केटिंग के सभी आयामों का अच्छा ज्ञान होना चाहिए इसलिए आपको अन्य विशेषज्ञ क्षेत्र में हाथ आजमाना होगा और अन्य कौशल सीखना होंगे। दूसरी ओर डिजिटल मार्केटिंग में पेशेवर प्रमाणन डिजिटल मार्केटिंग को समग्र प्रक्रिया के बारे में सही जानकारी देता है। 

तकनीकी कुशलता के संदर्भ में आपको वेब डिजाइन, सोशल मीडिया और वेब संबंधित सॉफ्टवेयर का अच्छा ज्ञान होना चाहिए, विश्लेषणात्मक कौशल, अनुसंधान कौशल, नेतृत्व कौशल और संचार कौशल भी अपेक्षित है। अगर आप इस क्षेत्र में प्रवेश करना चाह रहे हैं तो आपको घंटों कम्प्यूटर पर बैठने के लिए तैयार रहना चाहिए। आपको उपयोगकर्ता के आवागमन और व्यवहार के अध्ययन, उपयुक्त आंकड़ों का विश्लेषण तथा विभिन्न मार्केटिंग रणनीतियों के साथ प्रयोग करने में समय बिताना होगा। जिस द्रुत गति से कारोबार में डिजिटल मार्केटिंग का महत्व बढ़ रहा है उससे इस क्षेत्र में करियर के व्यापक अवसर का पता चलता है।




No comments