Display bannar

सुर्खियां

जयपुर की शान हैं, गोविंद देवजी का ये मंदिर

राम बाबू शर्मा, जयपुर 


जयपुर : दोस्तों, जयपुर को गुलाबी नगरी के नाम से जाना जाता है यहां पर हर मोड पर कोई ना कोई भगवान का मंदिर मौजूद है जो कि अपने आप में एक इतिहास रखता है । आज हम आपको जयपुर के एक ऐसे ही प्राचीन गोविंद देवजी के मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं । आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, ये मंदिर भगवान श्रीकृष्ण और उनकी प्रेमिका राधा रानी को समर्पित है । ये मंदिर चंद्र महन के पूर्व में बने जननिवास बगीचे के बीचों-बीच बना हुआ है । मंदिर में जो मूर्ति स्थापित की गई है वो पहले वृंदावन के एक मंदिर में स्थापित थी, जिसको राजा सवाई जयसिंह द्धीतिय ने अपने परिवार के देवता के रूप में यहां स्थापित किया था । 

मंदिर से प्राप्त जानकारी के अनुसार, गोविंद देवजी जयपुर के आराध्य देव हैं । शहर के राजमहल सिटी पैलेस के उत्तर में स्थित गोविंद देवजी मंदिर में प्रतिदिन हज़ारों की संख्या में भक्त आते हैं। आपको बता दें कि, इस मंदिर में जन्माष्टमी के मौके पर लाखों लोगों की भीड़ लगती है और वो सब रात का इंतजार करते है जब कि वहां पर श्रीकृष्ण का जन्म होता है । इस मंदिर के पीछे की तरफ एक तालकटोरा भी बना हुआ है जहां पर लोग बोटिंग का मजा लेते हैं । इस मंदिर भक्तों के प्रसाद के लिए 'मोदक' प्रसाद की सशुल्क व्यवस्था की गई है । गोविंद देवजी को बाहरी वस्तुओं का भोग नहीं लगाया जाता, केवल मंदिर में बने मोदकों का ही भोग लगता है।



No comments