Display bannar

सुर्खियां

कश्मीर मुद्दे के लिए शिवराज सिंह ने पंडित नेहरू को क्यों बताया 'अपराधी' ?

राम बाबू शर्मा, जयपुर 



इंदौर : मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौंहान ने बयान देते हुए कहा कि, जब भारतीय सेना कश्मीर से पाकिस्तानी कबिलाइयों का पीछा कर रही थी, तक जवाहरलाल नेहरू ने युद्ध विराम की घोषणा की थी और उस समय कश्मीर का करीब एक तिहाई हिस्सा पाकिस्तान के कब्जे में आ गया था । यदि ये युद्धविराम नहीं होता तो आज पूरा कश्मीर भारत का होता । बताया जा रहा है कि अनुच्छेद 370 को निष्क्रिय हो जाने के बाद में लगातार भाजपा नेताओं के बयानों का सिलसिला रूकने का नाम नहीं ले रहा है और आए दिन किसी ना किसी का कोई ना कोई बयान जरूर आता है । आपको बता दें कि इससे पहले हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने भी विवादित बयान दिया था और अब उसके बाद मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम ने इस प्रकार का बयान दिया है, जिसमें उन्होंने पंडित जवाहरलाल नेहरू को अपराधी बताया है ।

शिवराज सिंह चौहान ने पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कहा है कि, 'जब भारतीय सेना कश्मीर से पाकिस्तानी कबाइलियों का पीछा कर रही थी, तब नेहरू ने युद्ध विराम की घोषणा की, जिसके कारण कश्मीर का एक तिहाई हिस्सा पाकिस्तान के पास चला गया और आज पाकिस्तान बाकी हिस्से के लिए आए दिन हमला करता रहता है । यदि उस समय ये युद्धविराम नहीं हुआ होता तो आज पूरा कश्मीर भारत के पास होता और हमें पाकिस्तान से लडने की आवश्यकता भी नहीं होती । 

शिवराज सिंह चौहान ने बातचीत करते हुए कहा कि, 'जवाहरलाल नेहरू का दूसरा अपराध 370 है.' उन्होंने कहा कि, 'एक देश में दो निशान, दो विधान, दो प्रधान, यह एक देश के साथ अन्याय नहीं बल्कि उसके खिलाफ अपराध है.' आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले हरियाणा के सीएम खट्टर को कश्मीर की बेटियों पर शर्मनाक तंज कसने के कारण सफाई देनी पडी थी । सीएम खट्टर ने कहा है कि, 'मैं कश्मीर की लड़कियों को अपनी बेटियां मानता हूं. मेरा आशय कोई गलत टिप्पणी करने का नहीं था. देश की हर बेटी हमारी बेटी है' ।

No comments