Display bannar

सुर्खियां

यूपी में पत्रकारिता पर संकट, अब जौनपुर में पत्रकार के घर दबिश

राहुल यादव, जौनपुर 


जौनपुर : यूपी में निष्पक्ष पत्रकारिता पर संकट के बादल मड़राने लगे है जहां आए दिन किसी न किसी पत्रकार को यूपी पुलिस के कोपभन्जन का शिकार होना पड़ रहा है।जहां पिछले दिनों मिर्जापुर जिले में विद्यालय के मध्यांह भोजन योजना की गड़बड़ व्यवस्था उजागर करने के बाद फर्जी मुकदमें का सामना करना पड़ रहा है। वही जौनपुर के सुजानगंज पुलिस रात 12.30 बजें अकारण बिना किसी तहरीर के मनमाने ढ़गं से एक गांव में पत्रकार के घर छापा मारकर दहशत फैलाने का काम कर रही है। क्षेत्र में शांति व्यवस्था बनाने की जगह क्षेत्र में दहशत फैलाने के पीछे पुलिस की मानसिकता क्या है ?

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सुजानगंज पुलिस क्षेत्र के भैसहारामपुर (प्रेम का पूरा) गांव निवासी कमला शंकर दूबे के घर रात 12.30 बजें पहुंची | कुछ लोगों का मानना है कि कमला शंकर दुबे के पुत्र धीरज कुमार दुबे (पी न्यूज) ने अपने न्यूज चैनल के माध्यम से लखनऊ में पुलिस की नाकामी दर्शाते हुए एक सेक्स रैकेट का खुलासा किया है जिससे घबराई पुलिस यह कार्यवाही कर रही है और पत्रकार के साथ ही उनकी ससुराल में भी दबिश दे रही हैं। जब इस बिषय में थाना प्रभारी सन्तोष पाठक से बात की गयी तब उन्होनें कहा कि लखनऊ से आए फोन के आधार पर डायल 100 के द्वारा दबिश दी गयी है इसके अतिरिक्त और कोई जानकारी देने से कन्नी काट गये। इस पूरे घटनाक्रम से साफ जाहिर होता है कि यूपी में एक और पत्रकार को पुलिस नाकामी उजागर करने की भारी कीमत चुकानी पड़ सकती हैं |



No comments